प्रदेश

मौसम के बदले मिजाज ने किसानों की मेहनत पर पानी फेरा

बेमौसम बारिश से मालवा -निमाड़ के उज्जैन, धार, खरगोन ,खंडवा ,बुरहानपुर ,रतलाम, नीमच जिलों के कुछ गांवों में गेहूं की फसल को नुकसान

मार्च माह की शुरुआत होते ही यह अंदाजा लगाया जा रहा था कि अब सर्दी के मौसम की विदाई हो चुकी है और आने वाले दिनों में लोगों को भीषण गर्मी का सामना करना पड़ेगा, लेकिन सोमवार शाम से मौसम ने अचानक करवट ली और तेज आंधी तूफान के साथ कई स्थानों पर ओले गिरने की खबर सामने आई है। बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से गेहूं की फसलें खराब हुई हैं। किसानों के अनुसार गेहूं की फसल लगभग पककर तैयार थी लेकिन सोमवार शाम व मंगलवार को सुबह हुई ओलावृष्टि से फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है।

यह भी पढ़े- मुख्यमंत्री ने किया लाडली बहना योजना का शुभारंभ, 25 मार्च से भरे जाएंगे फॉर्म,आखिरी तारीख 30 अप्रैल 2023

प्रदेश के मध्य और पश्चिमी क्षेत्र में मौसम के बदले रूख से किसानों की चिंता बढ़ गई है और नुकसान की आशंका जताई जा रही है। बीते दिनों में तेज हवाओं के साथ ओला वृष्टि और बारिश ने किसानों की परेशानी बढ़ा दी है। मौसम विभाग द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार मप्र और महाराष्ट्र में 24 घंटे और तेज हवाओं का असर दिखेगा। अगले दो दिनों अधिकतम तापमान में 2 से 4 डिग्री की गिरावट दिखेगी इसके बाद 10 मार्च के बाद तापमान में इतनी की बढ़ोतरी होने की उम्मीद है।

यह भी पढ़े- Vande Bharat Express Madhya Pradesh कब होगी शुरू, जानिए ट्रैन का रूट, ट्रेन का संभावित टाइम टेबल

किसानों का भारी नुकसान

बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि के चलते चना, मसूर ,सरसो ,मटर की फसलों को भारी नुकसान होने की संभावना जताई जा रही है। इसकी वजह से किसानों में काफी ज्यादा चिन्ता का माहौल है। ओलावृष्टि के कारण काफी ज्यादा तबाही मची हुई है। तेज हवा के चलते गेहूं की फसलों को भी नुकसान हुआ है।

यह भी पढ़े- चैत्र नवरात्रि 2023: जानिए किस दिन से हो रही है चैत्र नवरात्रि की शुरुवात, इस मुहूर्त में करें घट स्थापना

तेज बारिश और ओलावृष्टि से रबी फसलों को नुकसान, दाम कम मिलने की आशंका

प्राप्त जानकारी के अनुसार मालवा -निमाड़ से भी गेहूं की फसल की बर्बादी की खबरें आ रही है। धार जिले के बदनावर क्षेत्र में 300 हेक्टेयर की फसल खराब होने की बात कही जा रही है ,वहीं खरगोन /खंडवा जिले में भी गेहूं की खड़ी फसल को नुकसान पहुंचा है। नीमच में तेज  बारिश और ओलावृष्टि से रबी फसलों को नुकसान पहुंचा है। रतलाम जिले में तो खेतों में काटकर रखी गई गेहूं की फसल भीग गई। इस कारण गेहूं की गुणवत्ता पर असर पड़ेगा , जिससे दाम कम मिलने की आशंका रहेगी।

यह भी पढ़े- मशहूर अभिनेता और डायरेक्टर सतीश कौशिक का निधन, 67 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

सीएम ने दिया भरोसा

ओलावृष्टि के कारण खराब हुई फसलों के बाद CM शिवराज सिंह चौहान ने किसानों को मदद का भरोसा दिया है। CM शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जहां पर ओलावृष्टि हुई है उसका सर्वे कराया जाएगा। किसानों का जितना नुकसान हुआ है उसकी भरपाई की जाएगी। प्रदेश सरकार किसानों के साथ है।


जुड़िये News Merchants Team से – देश, दुनिया,प्रदेश,खुलासा, बॉलीवुड,लाइफ स्टाइल,अलग हटके,धर्म,शेयर बाज़ार,सरकारी योजनाओं आदि कृषि सम्बंधित जानकारियों के अपडेट सबसे पहले पाने के लिए हमारे WhatsApp के ग्रुप ज्वाइन करें हमारे को Facebook पेज को like करें-शेयर करें।

राहुल कुमार शर्मा

में राहुल कुमार शर्मा News Merchants.com हिंदी ब्लॉग का को-फाउंडर हूँ तथा जिला स्तरीय अधिमान्य पत्रकार होने के साथ सामाजिक और धार्मिक खबरों की रिपोर्टिंग करता हूँ देश प्रदेश की योजनाओं और और सम सामायिक विषयों की जानकारी के लिए आप मुझसे संपर्क कर सकते हैं। हमारा उद्देश्य है कि आपको News Merchants.com के माध्यम से अच्छी सटीक और नई जानकारियाँ मिल सकें।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker