देश-विदेशप्रदेश

PFI RAID: जानिए पीएफआई की हर वो बात, जो आप जानना चाहते हैं

नई दिल्ली || एनआईए NIA और ईडी ED ने देश के कई राज्य सरकार पुलिस के साथ मिलकर अलग-अलग कार्रवाई करते हुए 40 पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया PFI RAID नेताओं को छापेमारी के दौरान हिरासत में लिया है |

एनआईए और ईडी ने सुनियोजित तरीके से पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI RAID) नेताओं पर छापेमारी करते हुए सुबह 3.30 बजे देश भर में कार्रवाई को अंजाम दिया है।

यह भी पढ़िए – Samantha Ruth prabhu मुसीबत में, इस बीमारी ने घेरा

अल सुबह हुई PFI RAID की कार्रवाई

विश्वसनीय सबूतों और खुफिया सूचनाओं के आधार पर, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA), प्रवर्तन निदेशालय और राज्य सरकारों की पुलिस ने PFI RAID के लिए आतंकवाद से संबंधित और आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए फंड उपलब्ध कराने की गतिविधियों ने लिप्त पीएफआई (PFI), एसडीपीआई(SDPI) सहित अन्य दलों के खिलाफ 13 राज्यों को कवर करते हुए अखिल भारतीय छापेमारी PFI RAID की । छापेमारी अल सुबह 3.30 बजे शुरू हुई और एनआईए ने अब तक करीब 100 से ज्यादा पीएफआई नेताओं को गिरफ्तार किया है।

INDORE : इंदौर का पी एफ आई कार्यालय जहाँ कार्रवाई हुई

इन राज्यों में हुई PFI RAID की कार्रवाई

शीर्ष सरकारी अधिकारियों और एनआईए NIA के सूत्रों के अनुसार जिन राज्यों में PFI RAID के लिए छापे मारे गए उनमें केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, पुडुचेरी, असम, राजस्थान शामिल हैं। हालांकि, गृह मंत्रालय द्वारा राष्ट्रव्यापी छापेमारी के लिए एक विस्तृत प्रेस नोट भी जारी किए जाने की उम्मीद है, वहीँ देश भर में इस कार्रवाई के बाद एनआईए अधिकारी छापे के बाद होने वाले परिणामों की जांच कर रहे हैं और गिरफ्तार पीएफआई नेताओं से पूछताछ शुरू कर दी गई है।

यह भी पढ़िए – RAJU SHRIVASTAV: राजू श्रीवास्तव का दु:खद निधन

एनआईए और राज्य पुलिस ने पीएफआई PFI RAID के अलावा उसकी राजनीतिक शाखा एसडीपीआई नेताओं पर भी कार्रवाई को अंजाम दिया है. यह ऑपरेशन बड़े ही गोपनीय तरीके से एन आई ए NIA के छापेमारी विशेषज्ञ डीजी दिनकर गुप्ता द्वारा की गई, कार्रवाई इतनी गोपनीय थी कि एन आई ए की टीम को भी पता नहीं था कि आखिर कार्रवाई कहाँ और किस पर की जा रही है इस मामले में आंतरिक और बाहरी सुरक्षा एजेंसियों द्वारा पूरी तरह से गोपनीयता बनाई गई थी।

INDORE : इस बिल्डिंग में है पी एफ आई का ऑफिस

यह भी पढ़िए – Anesthesia Specialist JOBS -2022: के लिए बम्पर जॉब्स, मेडिकल स्पेशलिस्ट भी करें आवेदन, यहाँ जानें पूरी प्रोसेस

इस कारण हुई PFI पर कार्रवाई

PFI RAID: – पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) और इसकी राजनीतिक शाखा सोशलिस्ट डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI) दोनों ही पिछले लम्बे समय से गृह मंत्रालय की निशानदेही पर बनी हुई है क्योंकि खुफिया इनपुट से सरकार को लगातार खबरें मिल रही थी कि कट्टरपंथी इस्लामी संगठन को पश्चिम एशियाई देशों, विशेष रूप से कतर, कुवैत, तुर्की और सऊदी अरब से अवैध रूप से वित्त पोषित किया जा रहा था

PFI RAID : – भारत में भी इनके द्वारा टेरर फंडिंग की जा रही है साथ ही देश में आतंक को बढ़ावा देने वाली ताकतों की मदद की जा रही है। ।इस फंड का इस्तेमाल न केवल देश भर में आतंकी गतिविधियों के लिए बल्कि युवाओं को कट्टरपंथी बनाने के लिए भी किया जा रहा था। संगठन के मुस्लिम ब्रदरहुड जैसे पैन-इस्लामिक संगठन के साथ संबंध थे और भारत में इस्लाम का चेहरा बनने की योजना थी।

यह भी पढ़िए – AAI recruitment 2022: एअरपोर्ट अथ्योरिटी ने निकाली 156 भर्तियां, जाने कैसे करें आवेदन, कितना है वेतन?

संदिघ्ध गतिविधियों में लिप्त है PFI

PFI RAID : – पीएफआई PFI और एसडीपीआई का शीर्ष नेतृत्व भारत में प्रतिबंधित संगठन स्टूडेंट्स इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) से जुड़ा हुआ है, जिसका मुख्य उद्देश्य भारत में इस्लामिक खिलाफत की स्थापना करना था। हालांकि एक कट्टर  सुन्नी संगठन, पीएफआई ने खुद को सूफियों, बरेलवी और देवबंदी सहित भारत के सभी मुसलमानों के नेता के रूप में पेश करने की कोशिश की है लेकिन देश के अलग अलग हिस्सों में हुए धार्मिक उन्माद और दंगों में पीएफआई PFI और एसडीपीआई की संलिप्तता हमेशा पाई गई है ।

PFI RAID : – खुफिया तंत्र को मिले पुख्ता इनपुट के बाद गुरूवार अल सुबह सुबह कोयंबटूर, कुड्डालोर, रामनाड, डिंडुगल, थेनी और थेनकासी सहित तमिलनाडु में कई जगहों पर पीएफआई के पदाधिकारियों के घरों पर छापेमारी की गई. वहीँ दूसरी और पुरसावक्कम में चेन्नई पीएफआई के राज्य कार्यालय में भी तलाशी ली जा रही है। असम पुलिस ने भी गुवाहाटी के हाटीगांव इलाके में संयुक्त अभियान चलाने के बाद राज्य भर में पीएफआई से जुड़े नौ लोगों को हिरासत में लिया है।

यह भी पढ़िए – Tutor Recruitment 2022: प्रदेश के इस कॉलेज में निकली भर्ती

PFI RAID के बीच सूत्रों के अनुसार कभी सिमी का गढ़ माने जाने वाले मध्य प्रदेश के इंदौर, उज्जैन, ,महिदपुर में कार्रवाई के लिए एन आई ए की टीम दबिश दी और इंदौर के खातीवाला टेंक और बंबई बाज़ार से तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है वहीँ उज्जैन में देर रात टीम ने कार्रवाई करते हुए पीलू की मज्जिद क्षेत्र से पीएफआई के प्रदेश महासचिव जमील शेख को भी गिरफ्तार किया है।

INDORE : इंदौर स्थित कार्यालय जिसे सील किया गया

इस महीने की शुरुआत में, एनआईए ने तेलंगाना में निजामाबाद जिले के अब्दुल खादर और 26 अन्य व्यक्तियों से संबंधित मामले में तेलंगाना में 38 स्थानों और आंध्र प्रदेश में दो स्थानों पर तलाशी ली थी। PFI RAID ऑपरेशन में, एनआईए ने डिजिटल उपकरणों, दस्तावेजों, दो खंजर और, 8,31,500 नकद सहित आपत्तिजनक सामग्री जब्त की थी। फिलहाल पुरे देश में पीएफआई की गतिविधियों पर केंद्र सरकार और NIA की टीम नज़रें गढ़ाए हुए बैठी है और कार्रवाई लगातार जारी है |

जुड़िये News Merchants Team से – देश, दुनिया, प्रदेश, खुलासा, बॉलीवुड, लाइफ स्टाइल, अलग हटके, धर्म, शेयर बाज़ार, सरकारी योजनाओं आदि कृषि सम्बंधित जानकारियों के अपडेट सबसे पहले पाने के लिए हमारे WhatsApp के ग्रुप ज्वाइन करें हमारे को Facebook पेज को like करें-शेयर करें।

राहुल कुमार शर्मा

में राहुल कुमार शर्मा News Merchants.com हिंदी ब्लॉग का को-फाउंडर हूँ तथा जिला स्तरीय अधिमान्य पत्रकार होने के साथ सामाजिक और धार्मिक खबरों की रिपोर्टिंग करता हूँ देश प्रदेश की योजनाओं और और सम सामायिक विषयों की जानकारी के लिए आप मुझसे संपर्क कर सकते हैं। हमारा उद्देश्य है कि आपको News Merchants.com के माध्यम से अच्छी सटीक और नई जानकारियाँ मिल सकें।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker