धर्म

vishwakarma pooja 2022: ऐसे करें उपकरणों की पूजा

vishwakarma pooja 2022

भारत में कार्य करने वाले कारीगर वर्ग के लोग अपने व्यापार में प्रगति और आर्थिक समृद्धि की कामना करते हैं, इसी मनोकामना की पूर्ति के लिए हमारे शास्त्रों में विश्वकर्मा पूजा vishwakarma pooja 2022 को महत्वपूर्ण माना गया है।

मान्यताओं के अनुसार, इस vishwakarma pooja 2022 विश्वकर्मा पूजन से व्यक्ति को सुख और व्यापार में वृद्धि मिलती है। साथ ही मान्यता यह भी है कि इस पूजा से आपको वाहन सुख की प्राप्ति होती है।

अगर आप भी आपके व्यापार में दिन दूनी और रात चौगुनी तरक्की करना चाहते हैं, तो विश्वकर्मा पूजा vishwakarma pooja 2022 के दिन इस सरल पूजा विधि को ज़रूर अपनाएं|

vishwakarma pooja 2022 तिथि और महत्व

पंचांग के अनुसार, विश्वकर्मा जयंती सितम्बर माह में 17 तारीख को मनाई जाएगी।  
इसके अतिरिक्त, विश्वकर्मा पूजा कन्या संक्रान्ति का शुभ क्षण प्रातः 07:36 मिनट पर होगा।  

इस तरह करें vishwakarma pooja 2022

श्री विश्वकर्मा पूजा vishwakarma pooja 2022 के दिन ऑफिस, वर्कशॉप, दुकान आदि विभिन्न व्यापारों के मालिक प्रातः स्नान आदि करके भगवान विश्वकर्मा की प्रतिमा सहित अपने सभी यंत्रों की विधिपूर्वक पूजा करते हैं। आज के दिन अस्त्रों और औज़ारों, उद्योगों में प्रयोग होने वाली मशीनों की पूजा का खास महत्व है।

पूजा विधान और सामग्री

सबसे पहले सुबह जल्दी उठकर स्नान कर लें, नए और साफ कपड़े पहनें और फिर पूजा की तैयारियां शुरू कर दें।
पूजा के लिए सबसे पहले पूजा स्थल को साफ और शुद्ध कर लें, वहां पर चौकी स्थापित करें और उसपर कपड़ा बिछाएं।
इसके बाद आसन पर विश्वकर्मा जी प्रतिमा या चित्र स्थापित करें।
इस दिन औजारों की पूजा का भी विधान है, इसलिए आप अपने व्यापार से संबंधित सभी औजारों या उपकरणों को पूजा स्थल पर रख लें।
अब भक्त भगवान विश्वकर्मा एवं सभी औजारों को धूप-दीप दिखाएं।
इसके पश्चात् विश्वकर्मा जी को और साथ में औजारों को भी रोली और हल्दी का तिलक लगाएं।
तिलक लगाने के बाद पूजा स्थल पर भगवान जी को और औजारों को अक्षत, फूल, पान, लौंग, सुपारी, मिठाई, फल और मोली समेत संपूर्ण पूजन सामग्री भी अर्पित करें।

इन मन्त्रों से करें vishwakarma pooja 2022

पूजा के दौरान हाथ में फूल एवं अक्षत लेकर भगवान विष्णु का ध्यान करते हुए ॐ आधार शक्तपे नम:, ओम कूमयि नम:, ओम अनन्तम नम:, पृथिव्यै नम: इन मंत्रों का जाप करें। इससे आपको पूजा का विशेष फल मिलेगा।

अब भक्तजन भगवान विश्वकर्मा जी से प्रार्थना करें कि हे प्रभु हमारी मशीनें और औजार निरन्तर, बिना किसी बाधा के कार्य करें और हमारे उद्योग देश की उन्नति में सहायक बने।

पूजा के अंत में भगवान विश्वकर्मा को प्रणाम करें और लोगों में प्रसाद बांटें।

यह थी भगवान विश्वकर्मा की उपकरणों सहित संपूर्ण पूजा विधि। हम आशा करते हैं कि यह लेख आपकी पूजा को सार्थक करेगा और आपको भगवान विश्वकर्मा जी की विशेष कृपा आप सभी समाजजनों पर बनी रहेगी |

 जुड़िये News Merchants Team से – देश, दुनिया,प्रदेश,खुलासा, बॉलीवुड,लाइफ स्टाइल,अलग हटके,धर्म,शेयर बाज़ार,सरकारी योजनाओं आदि कृषि सम्बंधित जानकारियों के अपडेट सबसे पहले पाने के लिए हमारे WhatsApp के ग्रुप ज्वाइन करें हमारे को Facebook पेज को like करें-शेयर करें।

राहुल कुमार शर्मा

में राहुल कुमार शर्मा News Merchants.com हिंदी ब्लॉग का को-फाउंडर हूँ तथा जिला स्तरीय अधिमान्य पत्रकार होने के साथ सामाजिक और धार्मिक खबरों की रिपोर्टिंग करता हूँ देश प्रदेश की योजनाओं और और सम सामायिक विषयों की जानकारी के लिए आप मुझसे संपर्क कर सकते हैं। हमारा उद्देश्य है कि आपको News Merchants.com के माध्यम से अच्छी सटीक और नई जानकारियाँ मिल सकें।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker